कुँवारी चूत, कुँवारी कन्या की पहली चुदाई की कहानियां

बिना चुदी नंगी चुत की पहली बार चुदाई, कुँवारी चूत की हिंदी कहानी, कुँवारी कन्या के पहले सेक्स की स्टोरी

Kunvari chut ki Chudai ki Hindi Kahani

choot Sex Stories About First Time Sex with a Virgin Girl

Story about Defloration of a Virgin Girl.

कुंवारी लड़की की चूत चटवाने की ख्वाहिश

जॉब के लिए प्रशिक्षण के दौरान मेरी दोस्ती मेरे बैच की एक लड़की से हुई. उसे देखते ही मुझे लगा कि 'चोद दूँ साली को' मेरी सेक्सी स्टोरी में पढ़ें कि मेरी लालसा पूरी हुई तो कैसे!

कुंवारी लड़की को सुनसान बिल्डिंग में चोदा

एक अधूरी बनी सुनसान बिल्डिंग में जाकर मैं पढ़ाई किया करता था. मगर उस बिल्डिंग ने मुझे एक कुंवारी चूत का मजा दिला दिया. कैसे? वर्जिन गर्ल की सेक्स कहानी पढ़ कर देखें!

चलती ट्रेन में छोटी बहन की सील तोड़ी

मैं अपनी छोटी बहन के साथ ट्रेन से बिहार से दिल्ली आ रहा था. रास्ते में हम दोनों ने कुत्ते-कुतिया की चुदाई देख ली और मेरी बहन की चूत मेरे दिमाग में घूमने लगी. तो फिर ...

मैंने अपनी मौसी की लड़की को चोदा

मेरी मौसी हमारे घर के पास ही रहती हैं. मौसी की 18 साल बेटी दिखने में बहुत सुन्दर और मदमस्त कर देने वाली है. मैं अपनी मौसेरी बहन को अपने बिस्तर पर लाया?

ट्रेन में एक हसीना से मुलाक़ात-2

ट्रेन में मिली लड़की से मेरी काफी गहरी दोस्ती हो गई. लेकिन उसे प्रोपोज करने में मेरी फट रही थी. आखिर उसकी सहेली ने मुझे बताया कि ... क्या बताया और बात आगे कैसे बढ़ी?

एक और अहिल्या-11

मेरी उंगली योनि की दरार के ऊपर चने के दाने के साइज़ के भगनासा पर ठहर गयी लेकिन वसुन्धरा के मुंह से जोर-जोर से कराहें ... कराहें क्या एक तरह से चीखें निकलने लगी.

पहला नशा पहला मज़ा-2

मैंने देखा कि मेरी सहेली और उसकी बड़ी बहन अपनी जवानी की आग अपने बाप से चटवा या उंगली करवा के शांत करती थीं. मेरे जिस्म की गर्मी भी उफान पर थी तो ...

एक और अहिल्या-10

वसुन्धरा के नंगे, गर्म जवान जिस्म को पीछे से रगड़ कर मेरा नंगा जिस्म आग पैदा कर रहा था. मेरा गर्म लिंग उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसके नितम्बों की दरार पर रगड़ खा रहा था.

इस हसीन रात के लिए थेंक यू

जवान कुंवारी लड़की ... प्रथम सहवास की प्रबल इच्छा लिए रात को बिस्तर पर आ गयी थी सोने के लिये ... तभी उसके फोन पर एक मेसेज आया. किसका मेसेज था और क्या था उसमें!

बारिश की बूँदें और वो

मैंने किराये पर कमरा लिया. मकानमालिक की दो बेटियाँ थी. मैंने छोटी से दोस्ती करनी चाही तो वो बोली- लाइन किसी और पर मारना। फिर वो कैसे एक बारिश वाली रात में चुदी?

एक और अहिल्या-9

मैंने आगे झुक कर वसुन्धरा के दाएं निप्पल को मुंह में लिया और उसे होंठों और जीभ से चुमलाने लगा. वो तत्काल मेरा सर अपने हाथों में ले अपने उरोजों पर दबाने लगी.

बैंक की नौकरी के लिए मेरा गैंगबैंग

किसी काम से मैं बैंक गयी तो मेरी क्लीवेज देख मेनेजर खुश हो गया, उससे मेरी दोस्ती हो गयी, मैं सभी काम के लिए सीधे मैनेजर के पास जाने लगी. एक बार बैंक में वेकेंसी निकली तो ...

एक और अहिल्या-8

"ओ राज! मुद्दतों तड़पी ... बरसों सुलगी, मैं इस पल के लिए." कह कर वसुन्धरा ने अपने दोनों हाथों से मेरा सर नीचे कर के मेरा चेहरा चुंबनों से भर दिया.

ऑफिस रिसेप्शनिस्ट की सीलतोड़ चुदाई

मैं कोचिंग क्लासेज में पढ़ाता था. वहां बहुत कयामत खूबसूरत रिसेप्शनिस्ट आयी. मैं भी बांका आकर्षक युवा, छैला किस्म का लड़का हूँ. तो हमारी सेटिंग कैसे बनी और आगे की ...

हिंदी सेक्स कहानी: आधी रात में गर्लफ्रेंड की चूत चुदाई

मेरी हिंदी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने मेरे पड़ोस रहने वाली लड़की से दोस्ती की और फिर आधी रात में उसके घर में जाकर पहली बार उसकी चूत चुदाई की.

एक और अहिल्या-6

ऊँचा कद, कमान सा तना सुडौल गोरा बदन, माथे पर उड़ती ज़ुल्फ़ें, तीखा सुतवां नाक, गुलाब सी कलियों से होंठ, नाभि से ज़रा नीचे बंधी शिफ़ौन की मरून साड़ी में से पारे की तरह थिरकती लम्बी पुष्ट जाँघें.

अंकल ने मेरी कुंवारी बुर की सील फाड़ दी

मैं 19 साल की कच्ची कली थी, हमारे पड़ोस में एक अंकल मुझे खा जाने वाली नजरों से देखते. एक दिन उनकी उंगलियाँ मेरे चूचियों से छू गयी तो मुझे मजा आया. उसके बाद क्या हुआ?

ऑफिस गर्ल से रोमांस फिर चूत चुदाई

मैंने पार्ट टाइम जॉब कर लिया. वहां बहुत लड़कियाँ आती थी. उनमें एक बहुत खूबसूरत थी. मैंने कैसे उससे पहले दोस्ती की और फिर उसे अपने बिस्तर की शोभा बनाया.

मैं कैसे बन गई चुदक्कड़-2

मुझे जॉब देकर मेरे बॉस ने मुझे अपने जांल में फंसा लिया. उन्होंने मुझसे ज्यादा वेतन और पक्की जॉब के बदले मेरे कुंवारे जिस्म का सौदा कर लिया. मैं अपने परिवार के लिए राजी हो गयी.

एक और अहिल्या-1

मेरी साली की बेटी की शादी मेरे शहर में थी, सारा इंतजाम मेरे जिम्मे था. मेरे साढू के रिश्तेदार मेरे घर में रुके थे. उन्हीं में से एक थी इस कहानी की नायिका ...

Scroll To Top